Hindi Section

By Neelam Jeena/12-01-2020

हिंदी साहित्य के प्रख्यात आलोचक डॉ नामवर सिंह द्वारा गठित नारायणी साहित्य अकादमी द्वारा राष्ट्रीय पुस्तक मेले में ८ जनवरी को एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया।
'भारतीय भाषा में बाल साहित्य' विषय पर चर्चा एवं काव्य गोष्ठी का आयोजन किया गया। चर्चा के अंतर्गत कई गणमान्य अतिथियों ने भाग लिया। कावय गोष्ठी में कवियों द्वारा अपने विचार कविताओं के माध्यम से रखे।

यशपाल सिंह चौहान,सविता चढ्ढा ,जनार्दन सिंह यादव,बाबा कानपुरी,डा,पुष्पा जोशी, जगदीश मीणा जी, गीतांजलि जी, चंद्रकांता सिधार, असलम बेताब, सरफराज,आरिफ गीतकार,डा, प्रियदर्शनी,मालती मिश्रा आशीष श्रीवास्तव,रीता पात्रा, सुमित भार्गव , खालिद आज़मी देवेंद्र मांझी और अनेक गणमान्य कवि ,शायर एवं साहित्यकारों नेअपनी उपस्थिति दर्ज़ करके कार्यक्रम की गरिमा  को बढ़ाया।अंत में अध्यक्ष पुष्पा सिंह विसेन ने सभी का धन्यवाद किया। इस आयोजन के दौरान सभी गणमान्य अतिथियों को अकादमी द्वारा प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया। 

NNW/30-08-2019

टोंको-रोंको-ठोंको क्रांतिकारी मोर्चा के द्वारा नर्मदा बचाओ आंदोलन की नेत्री मेधा पाटकर जी के द्वारा नर्मदा किनारे छोटा बड़दा में जारी "नर्मदा चुनौती अनिश्चितकालीन सत्याग्रह" के समर्थन में मुख्यमंत्री कमलनाथ को कलेक्टर सीधी के माध्यम से ज्ञापन सौंपा गया। मेधा पाटकर द्वारा सत्याग्रह आंदोलन सरदार सरोवर में 192 गांव और एक नगर को बिना पुनर्वास डूबाने की केंद्र और गुजरात सरकार के विरोध में किया जा रहा है | सरदार सरोवर बांध से प्रभावित 192 गांव और एक नगर में 32,000 परिवार निवासरत है ऐसी स्थिति में बांध में 138.68 मीटर पानी भरने से 192 गांव और 1 नगर की जल हत्या होगी | आज बांध में 134 मीटर पानी भरने से कई गांव जलमग्न हो गये हैं हजारों हेक्टर जमीन डूब गई है जिनका भी सर्वोच्च अदालत के फैसले अनुसार 60 लाख रूपये मिलना बाकी है कई घरों का भू - अर्जन होना बाकी है और ऐसी स्थिति में लोगों को बिना पुनर्वास डूबाया जा रहा है। नर्मदा घाटी के सरदार सरोवर के हजारों विस्थापित परिवार, गांव अमानवीय डूब का सामना कर रहे है। गुजरात और केंद्र शासन से ही जुड़े नर्मदा नियंत्रण प्राधिकरण ने कभी न विस्थापितों के पुनर्वास की, न ही पर्यावरणीय क्षतिपूर्ति की परवाह की है न ही सत्य रिपोर्ट या शपथ पत्र पेश किये है। हजारों परिवारों का सम्पूर्ण पुनर्वास भी मध्य प्रदेश में अधूरा है, पुनर्वास स्थलों पर कानूनन सुविधाएँ नही है। ऐसे में विस्थापित अपने मूल गाँव में खेती, आजीविका डूबते देख संघर्ष कर रहे है। ऐसे में आज की मध्य प्रदेश सरकार लोगो का साथ कैसे छोड़ सकती है। मघ्यप्रदेश के मुख्य सचिव द्वारा नर्मदा नियंत्रण प्राधिकरण को भेजे गये 27.05.2019 के पत्र अनुसार 76 गांवों में 6000 परिवार डूब क्षेत्र में निवासरत है। 8500 अर्जियां तथा 2952 खेती या 60 लाख की पात्रता के लिए अर्जियाँ लंबित है। गांवो में विकल्प में अधिकार न पाये दुकानदार, छोटे उद्योग, कारीगर, केवट, कुम्हार को डूब में लाकर क्या इन गांवों की हत्या करने जैसा नही है? इसीलिए किसी भी हालत में सरदार सरोवर में 122 मी. के उपर पानी नहीं रहे, यह मध्य प्रदेश सरकार को देखना होगा। जिसके लिये नर्मदा बचाओं आंदोलन की नेता मेधा पाटकर द्वारा अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल की जा रही है। ज्ञापन पत्र सौप कर कमलनाथ सरकार से अपेक्षा की गई है कि तुरंत संवेदनशील युध्द स्तरीय, न्यायपूर्ण निर्णय और कार्यवाही करे।

Research

Researcher and entrepreneur Dr Nusrat Jahan M. Sanghamitra has become a celebrity overnight. Dr Nusrat Jahan M Sanghamitra has won the third prize at the 'She loves tech global startup competition -2019 in Beijing.
Odisha based researcher has been honoured for the path-breaking cancer drug delivery device developed by CyCa…

Read more

Anju Grover/New Delhi, 2018-08-15

Fighting between married couple can adversely affect their health. Believe it or not, a study has confirmed that fighting can have negative impact of the health of couple. The study done by Ohio State University researcher Janice Kiecolt Glaser, was published in the prestigious  journal from…

Read more

New York,2018-01-18

It may prove crucial for those working in the health sector as researchers from US have found ways to increase human lifespan. Believe it or not, US Scientists have revealed the three-dimensional (3D) structure of an anti-ageing protein, that may not only increase human lifespan but also help…

Read more

EXCLUSIVE

Behaviour change is one of the important factor needed to make India open defecation-free. Is it or isn't it easy to bring a change in behaviour?It is not easy to bring any behavioural changes in the people when it comes to open defacation. Strategic Communication expert Dr Deepak Gupta and…

Read more

NNWN/ New York, 2018-05-30

Is divorce linked to poor health? Is divorce linked to smoking? What is the link between divorce and health of an individual?
To know the answers to these questions, the University of Arizona in US carried out the research led by author Kyle Bourassa. The research…

Read more

NNWN/Washington, 2017-02-07

Good news for those who drink green tea . A compound found in green tea may have lifesaving potential for patients with multiple myeloma and amyloidosis, who face often-fatal medical complications associated with bone-marrow disorders.

Published in the Journal of Biological Chemistry, the research has raised hopes of those…

Read more

EXCLUSIVE:

How did India manage to defeat Polio? Among the many reasons was a new approach that led to making strategies to make polio vaccination more acceptable among people who had been resisting it. Ngonewsworld has access to one such study conducted in the sub-urban clusters of the Delhi after World…

Read more

NNWN/ New York, 2018-03-18

Cancer patients get fatigued more quickly than those who do not have a history of cancer. US based researchers confirmed it after they conducted a study on the issue. The findings of the study conducted by the University in Maryland were published in the journal Cancer.…

Read more

NNWN / 2015-10-05

Good news for lung cancer patients. US authorities have approved a “breakthrough” to treat advanced non small cell lung cancer. The drug called Keytruda (pembrolizumab) was tested on approximately 500 patients with non-small cell lung cancer. With this development, patients suffering from lung cancer can heave a…

Read more